Sep 2018

Horoscope, Janam Kundali, Business Problems, Health problems

0
(0)

मेष राशि

ग्रह और नक्षत्रों की शुभ युति के कारण सितंबर माह मेष राशि वालों के लिए भाग्यशाली साबित होगा। तखत पति चंद्रमा की शुभ स्थिति के कारण रुके हुए कार्य पूर्ण होंगे जिस से मन की स्थिति प्रसन्न रहेगी। 21 सितंबर शुक्रवार से  26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय है। इस दौरान नया कारोबार और नई इन्वेस्टमेंट ना करें शुभ फल पैदा होगा। मंगल और चंद्रमा की शुभ युति के कारण निर्णय लेने आसान रहेंगे। आप के निर्णय प्रभावशाली और सर्वमान्य रहेंगे। अपनी कार्य प्रबंधन की क्षमता  का भरपूर अच्छा प्रदर्शन करते हुए समाज में उचित मान-सम्मान पाओगे।

मेष राशि में यह समय जिम्मेदारियों का बोझ उठाने के लिए ही है। और इस काम में किसी दूसरे की अपेक्षा करना समझदारी नहीं कहा जा सकता। यह समय है परिवारिक स्थिति के लिए कार्य करते रहने का। आप तन मन से तरोताजा होकर अपने कार्यों में जुट जाएं देव कृपा से पहाड़ जैसी दिखने वाली जिम्मेदारियां आप सरलता से पार कर जाएंगे। आपका कौशल आपका  व्यक्तित्व इस माह में आपको निखार कर सबके सामने आपका नया रूप प्रस्तुत करेगा।कृपया इस चैनल को सब्सक्राइब जरूर करें और व्यक्तिगत जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट www. धर्मएस्ट्रो डॉट कॉम पर जाये।

सितंबर माह में मेष राशि में धन की व्यवस्था भरपूर रहेगी और रुका हुआ धन और छिपा हुआ धन प्राप्त होगा। 17 सितंबर सोमवार सूर्य का कन्या राशि का प्रवेश  के बाद आपको पैतृक संपत्ति से हिस्सा प्राप्त होगा। मेष राशि वाले इस माह में सोना चांदी रतन धातु आदि का संग्रह वा खरीद बिक्री आदि करेंगे। गो धन की सेवा इस मास में भाग्य के लिए उत्तम फल पैदा करेगी। आपको इस मास में शेयर बाजार फायदे में रहेगा। विवाह शादी और उत्सव मे आपकी सम्मिलिता बनेगी जो आप को मान सम्मान और आपका उत्साह बढ़ाने वाली होगी।

इस मास में मेष राशि वालों के पुराने मित्र मिलेंगे जो पुरानी बातों और  बीते हुए समय को याद दिलाएंगे। नए मित्र कम बनेंगे। नए मित्रों से दूरी बनाए रखना एक सफल कदम रहेगा। दाहिना कान और दाहिनी आंख मैं कुछ तकलीफ रहेगी। जिसके लिए एक किलो मुंगी साबुत दाल किसी धार्मिक स्थान पर दान करना कष्टों से बचाव रखेगा। इस मास मे रेल डाक सेवा स्टैप कानून रजिस्ट्रेशन कानून और समाचार सेवा में रुचि बनी रहेगी।

सितंबर मास में मेष राशि वालों की परिवारिक स्थिति शुभ रहेगी। आपका व्यक्तित्व प्रभावी बना रहेगा। परिवार के उत्तरदायित्व के लिए  काम करते हुए समस्त परिवार के कार्य करोगे। परिवारिक सदस्यों से कार्यों क्षेत्र में कुछ अनबन रहेगी। 4 सितंबर मंगलवार गुगा नवमी से चंद्रमा का मिथुन राशि में प्रवेश होते ही परिवारिक सदस्यों से पुनः संबंध सुदृढ़ होंगे। और आपको सारे परिवार का सहयोग प्राप्त होगा। घर में पेंट रंग और सजावटी कपड़ों का आना तय होगा। घर की सफाई के लिए विशेष कार्य होंगे।

मेष राशि में इस मास विद्या के लिए आपके पास भरपूर अवसर है। विद्या फलदाई रहेगी। विद्या के संबंध में शुभ समाचार आएगा और रुकी हुई विद्या भी पूर्णता की ओर चल पड़ेगी। उच्च विद्या प्राप्ति के लिए समस्त कोशिशें सफल रहेगी। राज दरबार से विद्या के संबंध में मान सम्मान प्राप्त होगा जो समाज में आपको उच्च कोटि का स्थान दिलवाएगा।

बच्चों और पारिवारिक स्थिति के लिए यह समय अत्यंत अनुकूल रहेगा। इस मास में सूर्य की उच्च स्थिति के कारण समस्त ग्रह  और नक्षत्र इस मास में बालिग रहेंगे और नेक फल देंगे। अपनी दिमागी ताकत का इस्तेमाल करते हुए समस्त रुकावटों पर विजय प्राप्त करोगे। रसोई खाना लिए विशेष कार्य होगे। जो फलदाई रहेंगे।

मेष राशि में सितंबर माह में शत्रु पक्ष दबा रहेगा और शत्रु जेर रहेंगे। मुकदमा दीवानी हक में होंगे। पशु पक्षियों में स्नेह बडेगा और उनके लिए कार्य होगा। यह समय आपने स्वास्थ्य के लिए और योगासन के लिए उत्तम रहेगा। तंबाकू मध अफीम सिगरेट आदि रसायन से दूर रहना नेक फल देगा।

जीवनसाथी का भाग्य साथ देगा और जीवन साथी इस मास में कंधे से कंधा मिलाकर आपके कार्य को सफल बनाने के लिए प्रयत्नशील होगा। नए वस्त्रों की खरीद होगी जो मन को प्रसन्नता देने वाली होगी। नौकरी के संबंध में इस माह में सफलता साथ रहेगी। नौकरी में आपकी कार्यक्षमता से आपका मान-सम्मान बढ़ेगा।  किसी उच्च अधिकारी से मान पत्र प्राप्त होगा। धन की दशा इस माह नौकरी में अच्छी रहेगी और धन की प्राप्ति होगी।

सितंबर माह में मेष राशि वालों का स्वास्थ्य नेक फल देगा। पेट में कुछ खराबी रहेगी। परंतु शीघ्र ही 13 सितंबर बृहस्पतिवार सिद्धि विनायक व्रत के बाद स्थिति में सुधार होगा उत्तम सेहत प्राप्त होगी। एक किलो गुड़  धार्मिक स्थान पर दान करना सेहत के संबंध में नेक फल पैदा करेगा।

सितंबर माह में मेष राशि वाले विशेष धार्मिक कार्य करेंगे धार्मिक कार्यों में विधि को लेकर साथियों से वाद विवाद रहेगा। तन मन धन से सेवा करने के बाद भी मन प्रसन्न ना होगा। 20 सितंबर बृहस्पतिवार एकादशी के  बाद धार्मिक कार्यों में सम्मिलिता बढ़ेगी और धार्मिक कार्य पूर्णता से संपन्न करोगे। वाद-विवाद से बचना धार्मिक कार्य में नेक फल पैदा करेगा।

मेष राशि में सितंबर मास में व्यापारिक स्थिति शुभ रहेगी। कई माह से चली आ रही व्यापारिक रुकावटें अब खत्म होगी। 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद नई व्यापारिक योजनाएं बनेगी जो सफलता पूर्वक संपन्न होगी। आमदन के जरिए बढ़ेंगे जो नेक फलदाई रहेंगे। मीठा खाना और मीठा खिलाना इस मास में नेक फल पैदा करेगा। व्यापारिक उन्नति के लिए लाल रंग का बदाना बच्चों में बांटना व्यापारिक वृद्धि के लिए सफलता पूर्वक नेक फल पैदा करेगा । राजनीति में यह मास आपको  सफलता की नई ऊंचाइयों की ओर ले जाएगा जो आगे समय में फलदाई रहेगा और आपको उचित स्थान की प्राप्ति होगी।

इस मास में खर्च की स्थिति बनी रहेगी। सारा खर्च शुभ कार्य धार्मिक कार्य और पारिवारिक स्थिति को सुदृढ़ करने में खर्च होगा। जो शुभ फलदाई होगा। इस कार्य में जीवनसाथी का साथ और परिवारिक सदस्यों का साथ बना रहेगा।

वृष राशि

वृष राशि में सितंबर माह में ग्रह और नक्षत्रों की युति के कारण यह मास वृष राशि वालों के लिए कुछ संघर्ष में बीतेगा। किए हुए निर्णय पर दोबारा विचार करना पड़ेगा और बार-बार निर्णय बदलना पड़ेगा जिस कारण मन अप्रसन्न रहेगा। 21 सितंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय रहेगा। इस समय में किसी को रूपये उधारी देना और कोई उत्सव विषेश करना निषेध रहेगा।

लगन पति की उपस्थिति इस मास में कोई ज्यादा शुभ फल देने वाली ना होगी। इस मास में वृष राशि वालों को अच्छे आचरण बुद्धि और साहस का उपयोग करके समय को अपने पक्ष में करना होगा। 6 सितंबर बृहस्पतिवार शनि के मार्गी होते ही स्थिति में सुधार आएगा और कार्य नेक होने शुरू हो जाएंगे।

वृष राशि में सितंबर मास में धन की व्यवस्था नेक रहेगी। धन निर्विघ्न आता रहेगा। आय के स्रोत बडेगे और धन पर लक्ष्मी का साया साथ होगा। जो नेक और शुभ फल देने वाला होगा। जीवनसाथी का स्वास्थ्य नेक रहेगा दांतो में कुछ तकलीफ रहेगी। 13 सितंबर बृहस्पतिवार सिद्धिविनायक व्रत  के बाद निश्चित तौर पर धन और सेहत की स्थिति में सुधार होगा और नेक फल पैदा होगा।

वृष राशि में इस मास में मित्रों की संख्या कम ही रहेगी और समय पर मित्र काम नहीं आएंगे। बेहतर होगा काले काने और लावलद को मित्र ना बनाये।  उत्तर पश्चिम की तरफ घर में और घर के बाहर बिल्डिंग मटेरियल और मलबे का जमा होना एक मदे समय का सबूत होगा। 20 सितंबर बृहस्पतिवार एकादशी से निश्चित तौर पर स्थिति में सुधार होगा।

मदे समय से बचने के लिए ढाई किलो जौ किसी धार्मिक स्थान पर दान करना सब कष्टों से बचाओ करेगा। वाहन रिपेयर होगा और खर्चा कुछ ज्यादा ही रहेगा। घर में सजावट के लिए हाथी की शक्ल वाली कोई भी मूर्ति या फोटो लाना इस मास में मना होगा।

वृष राशि में इस मास में परिवारिक सदस्यों की स्थिति नेक बनी रहेगी। परिवारिक सदस्यों का साथ और उनका लाभ बना रहेगा। आपका व्यक्तित्व और आपका पुरुषार्थ परिवारिक सदस्यों की भलाई के लिए होगा। राज्य से मान सम्मान पाओगे ।आप अच्छे वक्ता और आपकी अच्छी प्रस्तुति के कारण आपको सहराया  जाएगा।

गुप्त धन की प्राप्ति होगी। दबा हुआ रुका हुआ धन भी प्राप्त होगा। 18 सितंबर मंगलवार बुध का कन्या राशि में प्रवेश आपके लिए शुभ फलदायक होगा। पुत्र की विदेश यात्रा होगी और यात्रा का सुख प्राप्त होगा। नये नये व्यंजन खाने में और फलों में इस मास  विशेष रुचि रहेगी। जो नेक फल पैदा करेगी।

इस मास मे आपके कार्य में मीन मेख  निकाल कर और आपकी अलोचना और निंदा करना आपको विचलित करता रहेगा। समय है आप इस अकेलेपन का उपयोग मानवता और परिवार की सेवा के लिए करें। इसके साथ आपकी दृष्टि इतनी निर्मल होगी कि आप दूसरों में भी बहुत कुछ सकारत्मक देख पाओगे। इससे मानव प्रेम चारों और मधुर संबंध फैलाएगा  जो आपकी सफलता का सूचक होगा।

वृष राशि में इस माह में विद्या के संबंध में नेक फल होगा। विद्या के संबंध में शुभ समाचार आएगा। उच्च विद्या प्राप्ति के लिए योजनाएं बनेगी जो कार्य बंद होगी। उच्च विद्या के लिए विदेश यात्रा होगी अथवा घर से दूर शिक्षा के लिए जाना पड़ेगा जो नेक फल पैदा करेगी। अर्थशास्त्र अंग्रेजी ज्ञान कविता मौखिक परीक्षा और विभागीय परीक्षा में रुचि रहेगी और सफलता प्राप्त होगी। प्रेम संबंध मधुर रहेंगे और नेक फल पैदा करेंगे।

वृष राशि में इस माह में शत्रु जेर रहेंगे और दबे रहेंगे । परंतु मित्रता वाला भाव प्रकट कर नुकसान पहुंचाने की कोशिश करेंगे। सावधान रहें मित्रों से धोखा हो सकता है। राजदरबारी मुकदमा और सरकारी तलक इस माह में आपको विजय दिलवाएंगे और सफलता साथ देगी। बुरे समय के बचाव के लिए किसी धार्मिक स्थान पर पीले रंग के लड्डू एक किलो दान करना सब कष्टों से बचाव रखेगा।  ऋण प्राप्ति के लिए योजनाएं रहेगी और ऋण की प्राप्ति होगी।

जीवनसाथी का साथ इस माह में नेक फल देने वाला होगा। जीवनसाथी आपका उत्साह और आपका हौसला बढ़ाता जाएगा। आपकी सफलता का श्रेय आपके जीवनसाथी को भी जाएगा। धार्मिक कार्यों में रुचि रहेगी। नौकरी में सफलता रहेगी। एडिशन चार्ज मिलने के योग हैं छोटा स्थान परिवर्तन होगा कार्य के संबंध में छोटी यात्रा का कुछ माह के लिए योग बना रहेगा।

वृष राशि में सितंबर माह में किसी परिवारिक सदस्य की सेहत का भय रहेगा। सेहत के तलक मे अशुभ समाचार आएगा। मन की अवस्था 15 सितंबर से 18 सितंबर तक नेक ना होगी। सेहत और विघ्नों के लिए एक किलो माह साबत किसी धार्मिक स्थान पर दान करना नेक फल का होगा। इस मास में छतों पर रिपेयर ना करवाएं और नयी छत डालने का कार्य ना करे।

धार्मिक कार्यों में रुचि बनी रहेगी। धार्मिक उत्सव में व्यस्तता रहेगी जो आपके व्यक्तित्व को निखार कर सामने लाएगी। 18 सितंबर सोमवार सूर्य का कन्या राशि में प्रवेश नेक फल वाला होगा। सारे कष्ट दूर होंगे और नेक समय शुरू होगा।

वृष राशि में व्यापार के संबंध में नेक फल ना होगा। व्यापारिक गतिविधियां रुक जाएंगी और नई योजनाएं नया उत्साह लाभदायक ना रहेगा।25 सितंबर मंगलवार पितृपक्ष श्राद्ध के शुरू होने से नेक समय शुरू हो जाएगा। रुके हुए कार्य पूर्ण होंगे । उपाय के तौर पर अंधे व्यक्ति को पीले रंग के लड्डू दान करना व्यापार में लाभ पैदा करेंगे।

इस मास में खर्चा कुछ ज्यादा रहेगा। जो सेहत के कामों और घर के रिपेयर आदि के कामों पर होगा। मन बेचैन रहेगा। नीम और पीपल के पेड़ में तिल और शक्कर का डालना इस मास में सब कष्टों से बचाता रहेगा।

मिथुन राशि

ग्रह और नक्षत्रों की शुभ युति के कारण मिथुन राशि में सितंबर मास प्रभावशाली रहेगा। लग्न पति बुध की स्थिति सूर्य के साथ होने के कारण इस मास में समाज के ऊंचे लोगों से मेल होगा और उनसे फायदा रहेगा। 21 नंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय है इस समय में यात्रा करना निषेध रहेगा। आपके निर्णय सफल रहेंगे आप की न्याय नीति  शांति और विमर स्वभाव आप की व्यक्तिगत पहचान बनेगे। आपके निर्णयों की वजह से समाज में और परिवार में उत्तम स्थान प्राप्त करोगे।

मिथुन राशि में सितंबर माह में धन की व्यव्स्था रहेगी। धन अधिक तो नहीं पर आवश्यकतानुसार प्राप्त होता रहेगा। पारिवारिक स्थिति नेक रहेगी। जीवनसाथी के कंधों में दर्द रहेगा।  9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद निश्चित तौर पर सेहत में सुधार होगा। पैसे की कमी के लिए और जीवनसाथी की सेहत के लिए ढाई किलो जौ बहते पानी में डालना नेक असर करेगा। शेयर बाजार इस मास में आपके लिये लाभदायक रहेगा। ज्योतिषशास्त्र फलकथन और कहानी उपन्यास लेखन आदि में रूचि बनी रहेगी।

मिथुन राशि में इस मास में मित्रों की संख्या निश्चित तौर पर बढ़ेगी। नए मित्र बनेंगे जो प्रभावशाली रहेगे। मित्र समय पर काम आएंगे और एक ही विचारधारा के मित्र बनेगे। गाड़ी वाहन आदि का  सुख बना रहेगा और नेक फल होगा। आपका होंसला और आप का पराक्रम आपको सफलता दिलाने के लिए और समाज में उचित स्थान प्राप्ति के लिए कार्य करेगा। फोटोग्राफी चित्रकारी और समाचार पत्र आदि में रूचि बनी रहेगी। एकाउंट्स में महारत हासिल होगी।

इस मास में मित्रों और परिवारिक संबंधियों से आपकी अपेक्षाएं ना पूर्ण होने के कारण मन में क्षेम रहेगा। बेहतर होगा कि आप अपनी अपेक्षाएं छोड़ दे और परिवार के लिए आप क्या कुछ कर सकते हैं इस दिशा में अपना ध्यान दें। अपनी पूरी ऊर्जा इसी दिशा में लगा दें इससे आपको जरूर फायदा होगा। व्यवसाय में चला आ रहा गतिरोध इस माह निश्चित ही दूर होने वाला है। होशपूर्वक बनाई गई दूरगामी योजनाएं आपके हित में कार्य करेंगी। लेकिन शीघ्र ही नई उर्जा और  प्रेम आपको प्रफुल्लित कर सफलता की ओर ले जाएगा।

मिथुन राशि में सितंबर माह में पारिवारिक स्थिति नेक रहेगी। धन की कमी ना होगी। परिवारिक एकता आपकी सफलता के साथ सहयोग करेंगी। दीवान खाना और घर को नया तथा सुंदर आदि बनाने के कार्या होंगे जो सफल रहेगे। इस मास घर में जल पूर्ति के लिए कार्य होगा  और पानी की अधिकता बनी रहेगी। फूलों को सुरक्षित रख उनका व्यवसाय करना औषधि का निर्माण और जायदाद हस्तांतरित करना शुभ फलदायक होगा।

विद्या के संबंध में सितंबर माह मिथुन राशि वालों के लिए नेक फल पैदा करेगा। विद्या पूर्ण होगी और प्राप्त की गई विद्या सौभाग्यशाली होगी। उच्च  विद्या प्राप्ति के लिए विदेश में गमन होगा। विद्या से मान सम्मान प्राप्त होगा और विद्या से बनी हुई समस्त योजनाएं कामयाब होगी। औलाद के लिए यह समय पूर्णता ही आगे बडने वाला होगा। औलाद का सुख बना रहेगा। पुस्तकालय और लेखन में रूचि बनेगी।

मिथुन राशि में सितंबर मास में शत्रुपक्ष छिपी हुई कार्रवाई करता रहेगा।इस मास मित्रों से और परिवारजनों से व्यर्थ की बहस से बचें। 15 सितंबर से 18 सितंबर तक समय कोई अनुकूल ना रहेगा। शत्रु पक्ष की कार्यवाहियां से चोट पर लगने का भय रहेगा। मंदे समय मे बचाव के लिए एक किलो गुड़ किसी धार्मिक स्थान पर दान करना सब कष्टों से बचाव रखेगा।

जीवनसाथी का साथ इस माह में बना रहेगा। जीवनसाथी का सहयोग और उनके परिवार का सहयोग उन्नति में सहायक होगा। पुस्तकों से और घर के कार्यों से लगाव बढ़ेगा। सिनेमा थिएटर फिल्म निर्माण एवं वितरण रिकॉर्डिंग रेडियो कार्यक्रम में रुचि बनेगी जो सफलता दिलाने के लिये सहायक रहेगी।

मिथुन राशि में सितंबर माह में सेहत के लिए नेक समय रहेगा परंतु पेट में कुछ खराबी रहेगी। 15 सितंबर से 18 सितंबर तक का समय सेहत के लिए समय शुभ नहीं रहेगा। एक किलो काले तेल किसी धार्मिक स्थान पर दान करना से शुभ असर पैदा होगा। इस समय में यात्रा ना करें अत्यंत शुभ फल होगा किसी पारिवारिक सदस्य के नाराज होने के योग हैं।व्यर्थ की बहस से बचें तो शुभ फल होगा।

सितंबर माह मिथुन राशि वालो की धार्मिक कार्यों मे रुचि बनी रहेगी। आपकी धार्मिक उत्सव में सम्मिलिता होगी। परिवार में कोई छोटा उत्सव होगा जो नेक फल पैदा करेगा। समाज और धार्मिक उत्सव का नेतृत्व करते हुए मान सम्मान पाओगे। यह सम्मान आप को एक नई दिशा देगा।

व्यापारिक संबंध इस माह में नेक फल देंगे। व्यापार खूब बढ़ेगा व्यापार में नई योजनाएं बनेंगी जो सफलतापूर्वक पूरी होंगी। 18 सितंबर मंगलवार बुध का कन्या राशि में प्रवेश व्यापारिक स्थिति के लिए सुखद होगा और कारोबार बढ़ेगा। जो मन को संतोष देने वाला होगा। कारोबार को बढ़ाने के लिए बाजरा पक्षियों को डालना नेक फल पैदा करेगा।

इस मास में मिथुन राशि में खर्चे का प्रकोप बना रहेगा परंतु खर्चा शुभ कार्य और परिवारिक स्थिति को सुधारने मे होगा। इस मास में दूध का दान सर्व कष्टों को मिटाने वाला होगा।दोस्तों आपका धर्म एस्ट्रो जल्द ही नए और कुछ वीडियो ले कर आपके पास हाजिर होगा।धन्यवाद।

कर्क राशि


कर्क राशि मे सितंबर माह ग्रह और नक्षत्रों की शुभ युति के कारण इस मास सफलतापूर्वक बीतेगा। लग्न पति चंद्रमा पर बृहस्पति की दृष्टि होने के कारण अनानास ही यह मास प्रगति के लिए शुभ सूचक रहेगा। निर्णय करने में कुछ दुविधा रहेगी और कुछ दबाव रहेगा। लेकिन निर्णय सफल और सर्वमान्य रहेंगे। जो भविष्य में आपका सही दिशा सूचक बनेंगे। 21 सितंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय है। इस समय में शादी विवाह समरोह और यात्रा ना करे। 4 सितंबर  मंगलवार चंद्रमा का मिथुन राशि में प्रवेश गुगा नवमी के दिन कार्य सिद्धि के लिए अद्भुत योग है। इस समय में जो भी कार्य शुरु करोगे निश्चित तौर पर सफलता प्राप्त होगी।

कर्क राशि में सितंबर माह में धन की व्यवस्था शुभ रहेगी। धन के लिए संघर्ष रहेगा लेकिन सफलता साथ देगी। मेहनत से कमाया हुआ तांबे का सिक्का भी सोने के सिक्के की तरह काम देगा। जीवन साथी का स्वास्थ्य कुछ नरम होगा। जॉइंट पेन और पीठ में दर्द रहेगा। 17 सितंबर सोमवार सूर्य का कन्या राशि में प्रवेश सब कष्टों से आपको निजात दिलाएगा। जीवनसाथी का स्वास्थ्य ठीक होगा धन के लिए और कष्ट नहीं उठाना पड़ेगा धन खुद-ब-खुद आता रहेगा। मंदे समय के लिए एक किलो माहं साबुत दाल  किसी धार्मिक स्थान पर दान करना नेक फल पैदा करेगा।

आपनी असफलताओं के कारण निराशावादी होना एक व्यक्ति स्वभाव है। परंतु पीड़ा तब और बढ़ जाती है जब आपका मन अतीत की ओर देखता है । जो हो चुका है उसे बार-बार कुरेदता है। आपकी हार जो अपनों की वजह से है आपको हताश  की अवस्था में रखेगी। परंतु समय के बदलाव से आने वाली सफलताएं आपको खुश कर देंगी।वही अतीत की बातें धुंधली हो जाएंगी। उचित होगा आप यह ठीक से देख लें कैसे जीवन में धूप और छांव आती है। यह मास उचित अवसर लेकर आपके दरवाजे पर दस्तक दे रहा है।

मिथुन राशि में सितंबर मास में मित्रों की संख्या बढ़ने वाली है। मित्रों से धन लाभ होगा और मित्र फायदा ही देंगे। काव्या संगीत के कार्यों में रुचि बनी रहेगी। वाहन रिपेयर होने के योग है और वाहन पर खर्चा होगा। दर्शनशास्त्र मनोवैज्ञानिक और चिकित्सा शास्त्र में रूचि बनेगी। 7 सितंबर बृहस्पतिवार शनि के मार्गी होते ही स्थिति में अत्यंत सुधार होगा और मित्रों से और परिवारिक सदस्यों से संबंधों में दृढ़ता आएगी।

सितंबर मास में परिवारिक स्थिति सुखद रहेगी। घर में उत्सव होगा और परिवारिक सदस्यों का इकट्ठा होना तय रहेगा। घर को सुंदर बनाने और सजावट करने के कार्य होंगे। बेड रूम और ड्राइंग रूम को सुंदर बनाने के और सफाई करने के प्रयास होंगे। किसी धार्मिक व्यक्ति का घर में आना शुभ असर का होगा। 13 सितंबर बृहस्पतिवार सिद्धि विनायक व्रत के बाद घर की स्थिति और सुदृढ़ होगी और पारिवारिक स्थिति खुशहाल होगी।

कर्क राशि में सितंबर माह में विद्या के संबंध में नेक फल होगा। विद्या के संबंध में नेक समाचार आएगा। रुकी हुई विद्या उत्तीर्ण होगी।  उच्च विद्या के संबंध में यात्रा होगी जो एक भविष्य के सफलता का सूचक होगी। विद्या के संबंध में पारिवारिक मतभेद बनेगा और दुविधा का समय रहेगा। 18 सितंबर मंगलवार बुध का कन्या राशि में प्रवेश सभी दुविधाओं काअंत कर देगा। निर्णय सफल रहेगा यात्रा जरूर होगी जो एक और सफलता का सूचक होगी। बच्चों के लिए और औलाद के लिए यह समय नेक फल का होगा और छोटी छोटी यात्राएं होती रहेंगी।

शत्रु पक्ष कमजोर और दबा रहेगा। शत्रु पक्ष भय के कारण से आपके सामने आने का साहस नहीं करेगा। कोर्ट कचहरी के मामले हक में रहेंगे। लंबे समय से चले आ रहे झगड़े समाप्त होने की दिशा में रहेंगे। इस मास मे काले चमड़े के जूते नये ना खरीदें तो शुभ फल रहेगा। तंबाकू मध गांजा सिगरेट आदि व्यसन से दूर रहें। कोर्ट कचहरी के मामलों में विजय के लिए हरा चारा दूधवाली गांय को डालना शुभ असर करेगा।

सितंबर माह कर्क राशि में जीवनसाथी के साथ कुछ मनमुटाव और तनाव रहेगा। 17 सितंबर सोमवार सूर्य का कन्या राशि में प्रवेश परिवारिक अनबन को दूर करेगा और आपसी संबंधों को और सुदृढ़ करेगा। नौकरी के लिए यह मास कुछ ज्यादा उत्तम नहीं है। तबादले की शंका बनी रहेगी और अधिक कार्यभार मिलने के योग बने हुए हैं। सभी कष्टों से बचाव के लिए काले तिल धार्मिक स्थान पर दान करना नेक असर पैदा करेगा।

इस मास मे अपनी ही गलतियों से सेहत खराब होगी और सेहत के लिए खर्चा होगा। किसी पारिवारिक सदस्य की सेहत ज्यादा खराब हो सकती है। 20 सितंबर एकादशी बाद निश्चित तौर पर स्थिति में सुधार होगा और स्वास्थ्य नेक फल देगा। अच्छे स्वास्थ्य और नौकरी में अच्छी स्थिति के लिए 13 किलो गेहूं बहते पानी में डालना शुभ असर पैदा करेगा।

धार्मिक कार्यों में रूचि बनी रहेगी। परिवार में किसी सदस्य के यहां धार्मिक अनुष्ठान होगा जो आपको शुभ फल देने वाला होगा। परिवारिक सदस्यों की और समाज की अध्यक्षता करने का अवसर मिलेगा।तन मन धन से धर्म की सेवा इस मास में तरक्की की बुनियाद होगी। उत्तम भाग्य उन्नति के लिए  गुड वाला मीठा घर पर बना कर धार्मिक स्थान पर दान करना भाग्य को बुलंद करेगा।

कर्क राशि में यह मास व्यापारिक दृष्टि से शुभ रहेगा। नई योजनाएं बनेंगी जो नेक फल देगी। व्यापार के संबंध में यात्राएं होगीऔर विदेश यात्रा के योग है जो सुखद अनुभव की होगी। व्यापार में लाभ रहेगा। नया शुरू किया हुआ व्यवसाय का उत्तम असर रहेगा। दूध का दान धार्मिक स्थान पर देना व्यापार में बढ़ोतरी करेगा।

इस मास में खर्च की अधिकता बनी रहेगी। जो उत्तम कामों में खर्च होगी और मन को तसल्ली देने वाली होगी ।इस मास में समाज में उत्तम स्थान प्राप्त करोगे।


सिंह राशि


सिंह राशि सितंबर माह में ग्रह और नक्षत्रों की शुभ युति के कारण  इस मास में शुभ फल देने वाली होगी। लग्न पति की लगन में स्थिति होने के कारण यह मास सिंह राशि वालों के लिए धन-धान्य और मान सम्मान के लिए नई सौगात लेकर आया है। 21 सितंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय है इस समय में यात्रा ना करें और ऋण प्राप्ति के लिए कोशिश ना करे तो शुभ फल होगा। सिंह राशि में सूर्य की शुभ उपस्थिति के कारण आपके सारे निर्णय सर्वमान्य होंगे। थोड़े संघर्ष के बाद ही विजयश्री साथ देगी किए हुए निर्णय फलदाई रहेगे।

इस मास मे आपके लिए आदर्श और बड़ी बातें नाहक तनाव के कारण बन जाएंगी। इस तरह आप बेवजह परेशानियों से गिरे रहेंगे। अपेक्षाओं के बावजूद स्थिति नियंत्रण में नहीं रहेगी और आप संवाद की स्थिति में नहीं रहेंगे। आप अपने इर्द-गिर्द  नकारात्मक उर्जा का घेरा ना बनने दें समय चक्कर चल कर फिर सत्तात्मक हो जाएगा। इस माह में सच ही समय आपके लिए देव कृपा से शुभ हो जाएगा।

धन की वर्षा के लिए यह मास शुभ फलदाई रहेगा। अनानास धन की प्राप्ति होगी और सारा मास धन आता रहेगा। 18 सितंबर मंगलवार बुध का कन्या राशि में प्रवेश पैसे की आमद को और शुभ करेगा और कमाया हुआ धन नेक फल का होगा। जीवनसाथी का स्वास्थ्य भी नेक फल देगा। सूर्य की उपस्थिति के कारण सारा मास ग्रह बालिग रहेंगे और शुभ फल देंगे। शेयर बाजार इस मास में आपको लाभ देगा। ज्योतिषशास्त्र फलकथन और खाने पीने में अतिरिक्त रुचि रहेगी। इस मास में सोना चांदी रतन धातु का खरीद वह संग्रह होने के योग बने हुए हैं जो फलदाई होंगे।

मित्रों की संख्या किस माह में बड़ने वाली हैऔर मित्र फलदाई रहेंगे। एक ही विचारधारा के मित्र  बनेंगे प्रभावी मित्रों से फायदा रहेगा और समय पर काम आएंगे। नए वाहन का योग बना हुआ है जो फलदाई रहेगा। परिवारिक सदस्यों से लाभ रहेगा। नौकर-चाकर और सेवकों का लाभ बना रहेगा। बृहस्पति की उच्च स्थिति के कारण 20 सितंबर बृहस्पतिवार एकादशी के दिन से समाज में नेतृत्व करते हुए यश मान की प्राप्ति होगी।

परिवारिक सदस्यों का सेहत के तलक मे नेक हाल होगा। 10 सितंबर से 16 सितंबर तक परिवारिक सदस्यों से वाद विवाद से बचें तो नेक फल रहेगा। इस मास में घर पर फर्श की रिपेयर ना करवाएं सेहत के लिए शुभ फल होगा।। 6 सितंबर बृहस्पतिवार शनि के मार्गी होते ही परिवारिक स्थिति और सुदृढ़ होगी और रुठे हुए सदस्य से दोबारा संबंध होगा जो नेक फल पैदा करेगा।

विद्या के संबंध में यह मास संघर्षपूर्ण रहेगा। विद्या प्राप्ति के लिए कई योजनाएं बनेंगी जो उचित फैसला ना होने के कारण आपकी योजनाएं लंबित रहेगी। जो नेक फल पैदा ना करेंगी। विद्या के संबंध में कोई शुभ समाचार प्राप्त ना होगा। 18 सितंबर मंगलवार बुध का कन्या राशि में प्रवेश सारी अनिश्चितताओं को विराम लगा देगा।  सफलता के लिये साबुत बादाम लकड के छिलके वाले मुट्ठी भर दान करना विद्या में होने वाली रुकावटों में राहत दिलाने में सहायक होगा। आपके प्रेम संबंध भी इस मास मे लंबित रहेंगे।

सिंह राशि में सितंबर माह में शत्रु पक्ष दबा रहेगा। शत्रु पक्ष छिपकर कारवाही करने की ताक में रहेगा। कोई अपना परिवारिक सदस्य आप के खिलाफ छुपी हुई कार्यवाहियां कर सकता है। जिससे आप तरोहित हो सकते हैं। 6 सितंबर बृहस्पति वार शनि के मार्गी होते ही शत्रु पक्ष कमजोर पड़ जाएगा और भाग्य आपका साथ देगा। जिसके लिए एक किलो काले तिल किसी मंदिर में दान करना शत्रु पक्ष से बचाव रखेगा और कोर्ट कचहरी के मामले अब हक में होंगे। घर में उत्तर पश्चिम की तरफ बिजली के इंस्ट्रूमेंट खराब पड़े हुए हैं जो घर में नकारात्मक  उर्जा उत्पन्न कर रहे हैं। उनको घर से दूर करना नेक फल पैदा करेगा।

जीवनसाथी का साथ सिंह राशि में बना रहेगा। जो नेक फल पैदा करेगा। इस मास में जीवन साथी का स्वास्थ्य कुछ नरम रहेगा चलने-फिरने में और पेट के निचले हिस्से में तकलीफ रहेगी। धार्मिक स्थान पर जाना और श्रद्धा से सर झुका कर क्षमा मांगना नेक फल पैदा करेगा। स्वास्थ्य नेक फलदाई होगा। नौकरी के संबंध में यह मार्च सिंह राशि वालों के लिए संघर्षमय रहेगा ज्यादा कार्य करना पड़ेगा ज्यादा कार्य करके भी मान सम्मान या उसके एवज में कुछ भी प्राप्त ना होगा। 24 सितंबर  सोमवार पूर्णिमा के बाद स्थिति में निश्चित तौर पर सुधार होगा और नौकरी में स्थिति सुदृढ़ होगी और जीवनसाथी का स्वास्थ्य नेक फल देगा।

“विराट दुनिया है दिन-रात जल्ती  सिर्फ धर्म बाकी है एहसान धरती”। इस मास में धर्म आगे बढ़ने का बुनियाद होगी।आप खुद मानद राजा हुक्मरान की तरह होगा। ख्यालात पुराने जमाने के और धर्म की पालना करने वाला होगा।  परिवार की सेवा करने वाला और लोगों को पालने वाला सेवक होगा।

सेहत के तिलक में अपनी सेहत के तिलक में यह मास शुभ फल देगा आपका अपना स्वास्थ्य ठीक रहेगा धार्मिक कार्यों में रुचि कम रहेगी धार्मिक कार्यों पर आप की उपस्थिति कम रहेगी गुप्त रूप से धार्मिक कार्यों में दान कर अपनी सम्मिलित बनाए रखेंगे यात्रा होगी और जो लाभदायक रहेगी व्यापारिक स्थिति इस माह में देखभाल करेगी के बारे में नई योजनाएं बनेंगी जो सफल रहेंगी व्यापार उन्नति पर रहेगा और नए नए प्रयोग व्यवहार पर सफल रहेंगे

समाजिक कार्यों में अग्रणी होकर कार्य करोगे और समाज में अपने लिए उचित स्थान प्राप्त करोगे इस मास में खर्चे का स्क्रब कम रहेगा खर्चा सिर्फ शुभ कार्यों पर ही होगा जो मन को शांति के देने वाला होगा इस मास में बुजुर्ग माता की चरण छूकर आशीर्वाद लेना इस मास में सब कष्टों से कुदरती तौर पर बचाव रखेगा धार्मिक स्थान पर 1 किलो दूध खदान लाभ देगा ।

कन्या राशि


सितंबर मास ग्रह और नक्षत्रों की शुभ युति कन्या राशि मे शुभ फलदायक रहेगी। लगन पति की स्थिति सूरज के साथ होने के कारण अत्यंत प्रभावी होगी। महत्वपूर्ण फैसला किसी की मदद से लेना नेक फल का होगा। 18 सितंबर मंगलवार बुध का कन्या राशि में प्रवेश कन्या राशि वालों के लिए शुभ फलदाई होगा और आपको निर्णय करने संभव हो जाएंगे। आप के  निर्णय सर्वमान्य रहेंगे और अपने निर्णयों की वजह से ही आप परिवार में और समाज में उचित स्थान बनाने में सफलता प्राप्त करोगे। 21 सितंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय रहेगा इस समय में प्रेम संबंधों और विद्या में प्राप्ति में विघ्न रहेंगे और इसके लिए कार्य करना भी निषेध रहेगा।


धन के लिए कन्या राशि सितंबर माह में अत्यंत शुभ फलदाई रहेगी। निर्विघ्न धन की प्राप्ति रहेगी और सारा मास धन आता रहेगा। आपका मन प्रसन्न रहेगा। जीवनसाथी का स्वास्थ्य नेक फल देने वाला होगा। सितंबर माह में कन्या राशि में सोना चांदी रतन धातु आदि का खरीद बिक्री वह संग्रह होने के योग बने हुए हैं। इस मास में कन्या राशि वालो की स्वर संगीत मैं रुचि रहेगी और आर्थिक तौर पर संपनता होगी। शेयर बाजार बीमा पॉलिसी सिक्योरिटी आदि के कार्यों में निपुणता हासिल होगी और इन मे रूचि बनी रहेगी।

कन्या राशि में सितंबर माह में मित्रों की संख्या कम ही रहेगी। परंतु मित्र प्रभावशाली है और समय पर काम आने वाले हैं। मित्रों के द्वारा इस मास में अनेक फायदे रहेंगे। वाहन का रिपेयर होना और उसके लिए कार्य करना इस माह में आपको व्यस्त रखेगा। राहु की स्थिति कन्या राशि में इस मास में खराब होने के कारण आपके कंधों में खिंचाव रहेगा। 6 सितंबर  बृहस्पतिवार शनि के मार्गी होते ही स्थिति में बदलाव होगा और सेहत के तलक में नेक फल प्राप्त होगा। मंदे समय में उपाय के लिए सूखे नारियल पूजा वाले किसी धार्मिक स्थान पर दान करना नेक फल देगा।


अपने दुखों और परेशानियों के कारण बाहर ढूंढना सिर्फ आपके मन का बहाव है। आप स्वयं को आहत होने से बचाना चाहते हैं।परंतु इससे आप अपनी व्यक्तिगत समस्याओं का समाधान नहीं पा सकेंगे। पिछले समय में दुखों के कारण और जिन परेशानियों में आप सचमुच व्यथित  रहे हैं। उनके लिए अपनी जिम्मेदारी को स्वीकार करें आप लिये यही उचित होगा। अब समय है अपनी पिछली भूलों के परिदृश्य को ठीक से देखें जहां मन आपका बार-बार वही दोहरा रहा है। जिसके कारण आप को परेशानियां आ रही है। मन के मायाजाल से बाहर आए। आपकी इस मास की सकारात्मक ऊर्जा आपके लिए शुभ समाचार लाएगी। इस दिशा में किए गए प्रयास जीवन को नई दिशा दे सकते है।


कन्या राशि सितंबर मास में शनि की ढईया के कारण यह मास परिवारिक स्थिति के लिए कोई उत्तम असर वाला ना होगा। परिवारिक सदस्यों से अकारण उलझना कोई नेक फल पैदा ना करेगा। परिवारिक सदस्यों से दूरियां बड़ेगी। जो नेक फल की ना होगी। 6 सितंबर बृहस्पतिवार शनि के मार्गी होते ही स्थिति में निश्चित तौर पर सुधार आएगा। परिवार में संबंधों को सुदृढ़ करना संभव हो जाएगा। बुरे समय से बचाव के लिए एक किलो माह साबत दाल किसी धार्मिक स्थान पर शनिवार के दिन दान करना निश्चित तौर पर स्थिति को सुधार करने के लिए सहायक होगा।



विद्या के पक्ष में यह मास अनेक विविधताओं से भरा रहेगा। उच्च विद्या प्राप्ति के लिए उचित निर्णय ना होने से समय व्यर्थ होता जाएगा। 13 सितंबर बृहस्पतिवार सिद्धिविनायक व्रत के बाद निश्चित तौर पर राशि में ग्रह स्थिति में सुधार होगा। उच्च  विद्या प्राप्ति के लिए दूर प्रदेश अथवा दूर देश में जाना शुभ फल पैदा करेगा। इस माह में आपके प्रेम-संबंध ज्यादा फलदाई नहीं रहेगे। मन में क्षेम रहेगा। नेक फल प्राप्ति के लिए एक किलो गुड किसी धार्मिक स्थान पर दान करना शुभ फल पैदा करेगा।


इस माह में कन्या राशि में शत्रु पक्ष  डरा और दबा रहेगा। परंतु धोखे की कार्यवाहियां करने का दुस्साहस तो करेगा लेकिन सफलता प्राप्त ना होगी। 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद निश्चित तौर पर स्थिति में सुधार होगा। शत्रु पक्ष और कोर्ट कचहरी के मामलों में विजय साथ देगी। समाज में मान सम्मान बढ़ेगा। इस मास काले रंग के कपड़े पहनना निषेध होगा।


जीवनसाथी का साथ इस माह में एक अकेला दो ग्यारह की तरह काम करेगा। यानी 11 गुना नेक फल देगा। जीवनसाथी का साहस आपके लिए एक ढाल की तरह काम करेगा। निश्चिती ही समय आपकी पकड़ने रहेगा। नौकरी के संबंध में यह मास शुभ समाचार वाला होगा। उच्च अधिकारियों की तरफ से सम्मान प्राप्त होगा जो आप का उत्साह बढ़ाने वाला होगा।


अपनी सेहत के तलक में यह मास मे छाती और गले के रोगों रहेंगे। 17 सितंबर सोमवार सूर्य का कन्या राशि में प्रवेश राशि में यह परिवर्तन स्वास्थ्य के लिए लाभ कारी रहेगा। घर में पानी वाले नल खराब हो तो ठीक करवाना सेहत के तलक में  शुभ फलदाई होगा। पानी का फालतू बहते हुये को रोकना एक तरह से धन को व्यर्थ जाते हुए रोकने की बुनियाद होगी।


धार्मिक कार्यों में रुचि बनी रहेगी। धार्मिक उत्सवों और धार्मिक कार्यों में तन मन धन से सम्मिलिता बनेगी। समाज में इसकी वजह से मान सम्मान प्राप्त होगा और आपने उचित स्थान की प्राप्ति होगी। धर्म के प्रति शुभ भावना से किसी धार्मिक स्थान की यात्रा होगी जो सुखद रहेगी। किसी धर्मगुरु का साथ भाग्य को चमकाने में मददगार रहेगा।


कन्या राशि में इस मास व्यापार की गति कोई ज्यादा नेक फलदायक ना रहेगी। व्यापार में अधिक व्यय के कारण मन प्रसन्न ना रहेगा। 18 सितंबर मंगलवार वुध का कन्या राशि में प्रवेश व्यापारिक स्थिति को निश्चित तौर पर सुधार करेगा। व्यापार में बनाई गई योजनाएं और नया कोई व्यापार अवश्य शुरू होगा जो फलदाई रहेगा। व्यापार की वृद्धि के लिए और समय की सफलता के लिए इस मास में पक्षियों को हरा बाजरा डालना नेक फल पैदा करेगा।


इस माह में अधिक व्यय के कारण धन की स्थिति कुछ समय के लिए कमजोर रहेगी। परंतु निश्चित तौर पर यह समय सफलता से मन को अत्यंत प्रसन्नता देने वाला और धन-धान्य को बढ़ाने वाला होगा।

तुला राशि


ग्रह और नक्षत्रों की शुक्र युति के कारण सितंबर माह तुला राशि वालों के लिए अत्यंत शुभ रहेगा। तखत पति बृहस्पति सब कार्यों का संचालन पूर्णता रुप से करते हुए समस्त  कार्यों को पूर्ण कर आप को सुख प्रदान करेगा। 21 सितंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय है। इस समय में घर पर कोई शुभ कार्य उत्सव आदि ना करें तो शुभ फल रहेगा। तुला राशि में बृहस्पति और शुक्र की युति एक संपूर्ण राजयोग बना रही है। तुला राशि वाले सितंबर माह में नए वस्त्र प्राप्त करेंगे नए वाहन प्राप्ति के योग हैं और एश्वर्या पूर्ण जीवन इस मास में व्यतीत करेगे।

लोगों की भलाई करते हुए आप की तरफ प्रश्न चिन्ह लगना आपके मन को हास करने वाला और गहन पीड़ा देने वाला होगा बावजूद इसके कोई आपको भला व्यक्ति कहे। आप आपने आक्रोश को निकाल बाहर करे। आप परिस्थितियों का समझ पूर्वक सामना करें जो आवेग लाती है। पिछले कुछ समय में हुयीं किसी नए व्यक्ति से जान-पहचान आपको बहुत विधायक ऊर्जा देने वाली है। इस सुंदर समय का उपयोग जीवन को उचित अवसरों पर ले जाने के लिए करें। अत्यंत शुभ फल होगा। इतना स्मरण रखें नई परिस्थितियां बहुत सारी खुशखबरी लाने वाली है। 25 सितंबर  मंगलवार पितृपक्ष का श्राद्ध वाले दिन बुजुर्गों के नाम की खैरात नये जीवन की बुनियाद होगी।

धन की व्यवस्था इस मास में शुभ रहने वाली है। धन थोड़े जतन करने से ही निरंतर आता रहेगा। जो फलदाई रहेगा। जीवनसाथी का स्वास्थ्य इस मास में कुछ नरम रहेगा। पेट में और पांव में कुछ तकलीफ रहेगी। 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद निश्चित तौर पर स्थिति में सुधार होगा। धन की आमद निर्विघ्न रहेगी और जीवन साथी के स्वास्थ्य के लिए शुभ असर का होगा।

जिसके लिए काले तिल एक किलो किसी धार्मिक स्थान पर दान करना नेक फल पैदा करेगा। शेयर मार्केट का तुला राशि वालों के लिए मिलाजुला असर रहेगा। आप इस मास मे ज्यादा बड़े रिस्क ना लें तो शुभ फल रहेगा। नाना प्रकार के नए-नए व्यंजनों में उत्सुकता बनेगी। साहित्य पढ़ने और कानून संबंधी किताबें पढ़ने में रुचि रहेगी।

मित्रों की संख्या इस माह में निश्चित तौर पर बढ़ेगी। मित्र प्रभावशाली रहेंगे। वह आपके व्यक्तित्व को निखारने का प्रयास करेंगे। अपने से बड़ी उम्र के मित्र सफलता मे साथी बनेगे। डाक तार विभाग टेलीफोन बैंक या बीमा कंपनी के कर्मचारियों से कार्य सिद्धि होने के पूर्ण योग है। शुभ फल की प्राप्ति के लिए घर में कुछ ताले जिनकी चाभियां गुम हो गई है पड़े हैं उनको घर से दूर करना या निकाल बाहर करना वास्ते धन और प्रगति के लिए शुभ फल पैदा होगा।

13 सितंबर बृहस्पतिवार सिद्धिविनायक व्रत के बाद निश्चित तौर पर स्थिति में सुधार होगा और परिस्थितियां अनुकूल रहेगी।

तुला राशि वालो का सितंबर मास मे कुछ परिवारिक सदस्यों से मनमुटाव रहेगा। आपके किए हुए फैसले आपके अपने ही स्वीकार ना करेंगे। 13 सितंबर सोमवार सूर्य का कन्या राशि में प्रवेश निश्चित तौर पर सारी अनिश्चितताओं को विराम लगाएगा। परिवारिक स्थिति सुदृढ़ होगी और परिवारिक सदस्यों से पुन्हा  लगाव बड़ेगा। परिवारिक स्थिति को शुभ रखने के लिए घर में मीठा बनाकर किसी धार्मिक स्थान पर दान करना सब कष्टों से बचाव रखेगा। इस मास में घर में खाना बनाने वाली चुलाह खराब होने पर उसे तुरंत ठीक करवा ले। यह परिवारिक स्थिति में सुधार करने में सहायक रहेगा।

विद्या के मामले में यह मां शुभ फल देने वाला है। रुकी हुई विद्या पूर्ण होगी और विद्या से संबंधित शुभ समाचार आएगा। ऊंची विद्या प्राप्ति के लिए नई योजनाएं बनेगी जो आगे समय में चलकर सफलता प्रदान करेंगी। प्रेम संबंध इस माह में कोई सुखद असर के ना होंगे। मानसिक चिंता के कारण बनेगे। यह मास औलाद के लिए शुभ असर वाला होगा।

तुला राशि सितंबर माह में शत्रु पक्ष के लिए अत्यंत भय प्रदान करने वाली होगी। शत्रु पक्ष अपनी हार को स्वीकार करके आप के प्रति मित्रता वाला प्रेम पूर्वक व्यवहार का प्रदर्शन करेगा जो आपको सर्वमान्य होगा। शत्रु से भी मित्रता इस माह में नेक फल देने वाली होगी। कोर्ट कचहरी के मामले हक में होंगे ज्यादा देर लंबित चलने वाले मामले आखिर में समाप्ति पर होंगे। इस मास में व्यायाम और योगा की रुचि बढ़ेगी और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए कार्य होंगे।

जीवनसाथी का साथ सितंबर माह में तुला राशि वालों के लिए एक वरदान रहेगा। लक्ष्मी खुद-ब-खुद को पकड़ती पड़ेगी। जीवनसाथी का साथ आपको और आपके भाग्य को बल देने वाला होगा। नौकरी के संबंध में यह मास आपको तरक्की देने वाला ज्यादा धन की प्राप्ति देने वाला और शुभ फल प्रदान करने वाला होगा।  ज्यादा काम और ज्यादा मान सम्मान प्राप्त होगा। किए हुए कार्य को सहराया जाएगा। धन की प्राप्ति के लिए और नौकरी में तरक्की की प्राप्ति के लिए इस मास में गंगाजल में चांदी का टुकड़ा डाल कर रखना पूरा माह नेक फल पैदा करेगा।

सेहत के लिए यह मां अत्यंत भाग्यशाली रहेगा। साला मास स्वास्थ्य नेक फल देगा। आप की हाजिरी में कोई भी परिवारिक सदस्य कष्ट ना पा सकेगा। धार्मिक कार्यों में रुचि रहेगी। धार्मिक कार्यों में धन की सहायता से आप समाज और परिवार  में मान और सम्मोहन प्राप्त करोगे।

व्यापार में सितंबर माह का तुला राशि वालों के लिए मिलाजुला असर रहेगा। व्यापार में परिवर्तन करना या स्थान बदलना कोई नेक फल पैदा ना करेंगा। बेहतर होगा कि आप स्थान परिवर्तन ना करें। 18 सितंबर मंगलवार बुध कन्या राशि में प्रवेश सारी अनिश्चितताओं को विराम लगा देगा। व्यापार शुभ फलदायक होगा। जिसके लिए सूखा नारियल पूजा वाला धार्मिक स्थान पर इस मास में दान करते रहना व्यापार स्थिति को सुदृढ़ करता जाएगा धन लाभ रहेगा।

इस मास व्यय  की स्थिति आपके नियंत्रण में रहेगी। केवल खर्चा गुप्त तौर पर किसी को धन देने से ही होगा। सामाजिक दृष्टि से खूब मान सम्मान प्राप्त होगा और गुरु की हैसियत से आप का पूजन होगा।

वृश्चिक राशि


सितंबर माह  वृश्चिक राशि में ग्रह और नक्षत्रों की शुभ युति के कारण यह मास वृश्चिक राशि वालों के लिए भाग्यशाली रहेगा। लग्न पति मंगल की शुभ स्थिति के कारण आपके ठोस निर्णय आपकी पहचान बनेंगे। आपने बाहुबल के प्रभाव से मित्रों और समाज पर अपना अधिपत्य पाने की आपको सफलता प्राप्त होगी। 21 सितंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय रहेगा। इस समय में नया वाहन नया घर और बच्चों के लिए खिलौने ना खरीद करें शुभ फल रहेगा।

आप दूसरों को सुधारने के लिए अपना समय व्यर्थ नष्ट ना करें। मन को आने वाली तकलीफों को भी एक सीमा से अधिक सहना आसान कार्य नहीं है। परिस्थितियां आपके कार्यस्थल पर आपके सामने आ गई है। आपका बेचैन होना समझ में आता है। समय है जब आप सारी बेचैनी को निकाल पूरी तरह से बाहर करें। यह बेचैनी का दुष्चक्र मन की स्थिति ठीक होने से रुक जाएगा और बेहतर स्थिति को समझना आपके लिए सरल होगा। संभव हो कुछ दिन किसी प्राकृतिक स्थल पर अपने स्नेहीजनों के साथ कुछ  समय व्यतीत करें मन की शांत स्थिति के लिए शुभ फल होगा।

वृश्चिक राशि सितंबर मास मे धन की व्यवस्था के लिए नेक पल पैदा करेगी। धन की कमी ना रहेगी। परंतु अत्यधिक धन आने की संभावना कम ही होगी। घर पर धार्मिक ग्रंथ का फटा होना और अत्यधिक खराब हालत में होना धन की प्राप्ति के लिए  नेक असर ना करेगा। बेहतर होगा कि उस धार्मिक ग्रंथ को घर से दूर कर दिया जाए धन के लिए शुभ फलदाई होगा। 6 सितंबर बृहस्पतिवार शनि के मार्गी होने के बाद धन के द्वार आपके लिए खुल जाएंगे। धन की आमद को निर्विघ्न बनाने के लिए इस मास एक किलो दूध हर सोमवार किसी धार्मिक स्थान पर दान करना धन प्राप्ति के लिए निश्चित ही शुभ रहेगा।

सितंबर माह वृश्चिक राशि में मित्र प्रभावशाली रहेंगे । राशि में केतु की मंगल के साथ युति  होने के कारण कार्य सिद्धि के संबंध में मित्रों से मतभेद रहेगा और मित्रों से कुछ समय के लिए अनबन भी रहेगी। परंतु 13 सितंबर बृहस्पतिवार सिद्धिविनायक व्रत  के बाद स्थिति में निश्चित तौर पर सुधार होगा। रुष्ट हो गए मित्रों को अपनी गलती का एहसास होगा और वह पुनः मित्रता वाला भाव प्रकट करेंगे। मोटर वाहन आदि के रिपेयर होने के योग बने हुए हैं जो खर्चे के कारण होंगे। एक किलो काले तिल किसी धार्मिक स्थान पर दान करने से शुभ फल पैदा होगा।

परिवारिक स्थिति के लिए यह मास शुरुआत में कोई नेक फल का ना होगा। कुछ महत्वपूर्ण परिवारिक सदस्यों से धन के मामले के लिए मतभेद रहेगा। परंतु निश्चिती 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद स्थिति में सुधार होगा। परिवार की व्यवस्था शुभ फलदाई रहेगी। घर पर फर्नीचर रिपेयर और पानी के सामान की रिपेयर शुभ फल देगी। उत्तर दिशा और उत्तर पश्चिम दिशा मे कूड़े के डिब्बे रखे होने पर मान सम्मान में कमी करेगा। बेहतर होगा उत्तर और उत्तर पश्चिम कूड़े के ढेर कूड़े के डिब्बे दूर रखें और उस जगह की सफाई ही रखें।

वृश्चिक राशि सितंबर माह में विद्या के लिए शुभ फलदाई रहेगी। रुकी हुई विद्या पूरी होगी और विद्या के प्रति आपके सपने साकार होंगे। विद्या प्राप्ति के लिए दूर प्रदेश घर से दूर जाना पड़ेगा। जो भविष्य में फलदाई रहेगा। इस माह में आपके प्रेम-संबंध शुभ रहेंगे। प्रियाजन से मिलन होगा जो मन को शांति देने वाला और प्रसन्नता देने वाला होगा।

चंद्रमा की वृश्चिक राशि में स्थिति के कारण इस मास में शत्रु पक्ष से मन में भय रहेगा। शत्रु पक्ष कष्ट पहुंचाने की कोशिशें करता रहेगा पर कामयाब ना होगा। बेहतर होगा कि आप अपने मन की बात और अपना भेद किसी बाहर के व्यक्ति पर जाहिर ना करें तो नेक फल प्राप्त होगा। इस मास में पांव के लिये जूते जुराबें नई खरीद होगी जो स्वास्थ्य के संबंध में नेक फल पैदा करेगी।

जीवनसाथी का साथ नेक फल पैदा करेगा। आपका अपना सारा कष्ट जीवनसाथी अपने ऊपर ले लेगा। जीवनसाथी का स्वास्थ्य कुछ इस मास में नरम रहेगा पीठ में दर्द चलने-फिरने में तकलीफ रहेगी। 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद स्थिति में निश्चित तौर पर सुधार होगा। सेहत अच्छी रहेगी और जीवनसाथी का भाग्य आपके भाग्य के लिए उत्तम असर का होगा। अच्छी सेहत प्राप्ति के लिए काले चने रात को भिगोकर सुबह गौशाला गायों को डालना नेक फल पैदा करेगा। नौकरी के संबंध में 20 मार्च से शुभ फल रहेगा तरक्की की योजनाएं बनेंगी। लेकिन तरक्की आगे भविष्य में होगी सीनियर अफसरों का साथ बना रहेगा जो आपके कैरियर को और उज्जवल करेगा।

सितंबर माह में वृश्चिक राशि वालों का आपना स्वास्थ्य नेक फल पैदा करेगा। सारा मास स्वास्थ्य रहोगे जो शुभ फलदायक होगा। 20 सितंबर बृहस्पतिवार एकादशी के बाद स्थिति में और उत्तम सुधार होगा रुके हुए कार्य निर्विघ्न पूरे होंगे।

धार्मिक कार्यों में रुचि बनी रहेगी। परंतु अपनी व्यस्तता के कारण अपनी हाजिरी धार्मिक उत्सव में ना दे पाएंगे। परंतु धन से अवश्य सहायता करेंगे जो भाग्य के लिए उत्तम फल पैदा करेगा। समाज में अग्रणी होकर मान सम्मान प्राप्त करोगे। छोटी-छोटी यात्रा रहेगी जो शुभ फल पैदा करेगी।

सूरज बुध की युति वृश्चिक राशि के लिये सितंबर माह मे व्यापार को शुभ अवसर प्रदान करेगी। नया कारोबार शुरू होगा। जिसमें साझेदारी का योग बना हुआ है उत्तम फल पैदा होगा। 18 सितंबर मंगलवार को बुध का कन्या राशि में प्रवेश व्यापार के लिए नए आयाम पैदा करेगा। नयी व्यापारिक योजनाएं बनेगी और कामयाब रहेगी। “झुककर नहीं रहेंगे जब झुकना पड़ेगा तब हम नहीं रहेंगे, रहेंगे तो उसके साथ जो हम प्याला हम निवाला हो” का जुमला इस मास में आप पर लागू होगा।

इस मास में खर्चा कुछ ज्यादा रहेगा। परंतु सारा खर्चा नेक कामों पर होगा घर की रिपेयर और धार्मिक कार्यों में व्याय होने के योग बने हुए हैं। बृहस्पति की उच्च स्थिति के कारण रात की नींद नेक फल देगी।

धनु राशि


ग्रह और नक्षत्रों की शुभ युति के कारण सितंबर माह धनु राशि वालों के लिए नेक अवस्था में बीतेगा। 21 सितंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पचंको का समय रहेगा। इस समय में पैसों का लेनदेन ना करें तो शुभ फल रहेगा। तखतपती शनि सारा माह अपना शुभ प्रभाव देता रहेगा। कार्यों सफलता की गति कुछ धीमी रहेगी परंतु सफलता सारा मास साथ देगी। आपके किए हुए निर्णय ठोस पर भावुकता रहित होगे। जो शुरुआत में कड़वे परंतु समय की अनुकूलता मे सफल रहेंगे। आप के निर्णय से आपकी पहले निंदा फिर आपको सहराया जाएगा और जिससे आपका उत्साह और बढ़ जाएगा।

सपने देख भर लेने से यदि हकीकत बदल सकती तो इस दुनिया में कोई भी परिश्रम नहीं करता। समय है शेखचिल्ली की बातें छोड़ कर अपने सपनों को परिश्रम से साकार करने का। समझदारी की बात यही है सपने देखें और उनको पूरा करने के लिए कार्य करें। थोड़ी  समझ से ही मन की चालाकियां समझना आसान हो जाता है। आप का मन छोटी-छोटी बातों का बतंगड बना देता है और फिर नाहक रिश्तो में तनाव पैदा करता है। कुछ समय से चली आ रही रिश्तो में टकराहट इसी का नतीजा है। इस माह मे आपके किसी भी प्यारे मित्र का साथ आपके मन को अतिरिक्त उल्लास से भर देगा।

धन के लिए धनु राशि सितंबर माह में नेक फलदायक रहेगी।  रुका और दबा हुआ धन प्राप्त होगा। परंतु धन धीमी गति से और रुक-रुककर आता रहेगा। 6 सितंबर बृहस्पतिवार शनि के मार्गी होते ही धन की व्यवस्था में सुधार होगा और धन की प्राप्ति आसान होगी। जीवनसाथी का स्वास्थ इस माह में कुछ ज्यादा नेक फल का ना होगा। पेट में खराबी रहेगी जिसके लिए दो पूजा वाले सूखे नारियल किसी धार्मिक स्थान पर दान करना स्वास्थ्य को लाभ करेगा। इस मास में तंबाकू मध और नशे वाली चीजों से दूर रहना नेक फल पैदा करेगा और मान-सम्मान बना रहेगा।

मित्रों की संख्या सितंबर माह धनु राशि में कम ही रहेगी। मित्र प्रभावशाली रहेंगे मित्र कार्य सिद्धि में अवश्य सहाय होंगे। मन प्रसन्न रहेगा 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद  निश्चित तौर पर स्थिति में आश्चर्यजनक सुधार होगा। मोटर वाहन आदि के प्राप्ति के योग हैं। वाहन का सुख बना रहेगा। डाक तार विभाग टेलीफोन विभाग बैंक और बीमा कंपनी के कर्मचारी सहायता के लिए तत्पर रहेंगे और इन से लाभ होगा। कानों में कुछ तकलीफ रहेगी।

सितंबर माह धनु राशि में परिवारिक स्थिति सुखद रहेगी। घर पर कोई उत्सव कोई अनुष्ठान होगा। परिवार का नेतृत्व करते हुए समाज में और परिवार में प्रतिष्ठा पाओगे। इस मास मे दीवान खाना  और शयन कक्ष को आकर्षक बनाने के लिए यतन होंगे जो सफल रहेंगे। इस मास में बाग बगीचाऔर फलों को सुरक्षित रखना उनका व्यवसाय करने मे रुचि रहेगी और यह कार्य इस मास में आप उत्कृष्टता से करेंगे। जायदाद हस्तांतरण का कार्य होगा।

चंद्रमा की उच्च स्थिति के कारण यह मास धनु राशि वालों के लिए विद्या मे नेक फल देगा। विद्या में उत्तीर्ण होगे और आप का चयन उच्च विद्या के होना तय होगा। विद्या के प्रति आपका लक्ष्य इस माह में पूर्ण होने के योग बने हुए हैं। विदेश यात्रा होगी और विदेश में विद्या प्राप्ति का मौका मिलेगा। जो आपके मान-सम्मान का कारण बनेगा। राजदरबार में विद्या से संबंधित कोई प्राप्ति होगी जो नेक फल पैदा करेगी। इस मास में नए प्रेम संबंध सफल रहेंगे मिलन का फल नेक पैदा होगा।

सितंबर माह धनु राशि वालो के शत्रु दबे और डरे रहेगे। कोर्ट कचहरी में लंबित पड़े मामले अब हक में होंगे जो शुभ फल पैदा करेंगे। 25 सितंबर मंगलवार पितृपक्ष के श्राद्ध शुरू होते ही देव कृपा से सारे कार्य सिद्ध होने शुरू हो जाएंगे जो नेक फल पैदा करेंगे। इस मास में काले और नीले वस्त्र खरीद करना और पहनना  निषेध होगा। तो नेक फल रहेगा।

जीवनसाथी का भाग्य इस माह में नेक फल पैदा करेगा।  जीवनसाथी का साथ बना रहेगा। नौकरी के संबंध में यह मास सफलता का सूचक है। तरक्की के लिए योजनाएं बनेंगी और आप अपने कार्य को सफलतापूर्वक सफल करेंगे। इस मास में चोरी का धन झगड़ा विषय वासना से दूर रहना नेक फल देगा। ग्राम पंचायत सिनेमा थिएटर फिल्म निर्माण व वितरण रिकॉर्डिंग रेडियो कार्यक्रम आदि में रूचि बनी रहेगी। 17 सितंबर सोमवार सूर्य का कन्या राशि में प्रवेश परिवारिक जीवन में नया आयाम देगा जो शुभ फलदायक होगा।

सेहत के तलक में यह मास धनु राशि वालों के लिए ज्यादा सुखद ना रहेगा। पेट में कष्ट और छाती के रोग रहेंगे। 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद स्थिति में निश्चित तौर पर सुधार होगा।अच्छी  सेहत के लिए एक किलो जौ और आधा किलो गुड का दान नेक फल पैदा करेगा और स्वास्थ्य को नेक रखने के लिए सहायक होगा। उत्तर की तरफ घर के पास मलवे का पडे होना सेहत और धन के लिए रुकावटें पैदा करेगा।

सितंबर माह में धनु राशि वाले धार्मिक उत्सव मे आपनी सम्मिलिता बनाए रखेंगे। तन मन धन से धर्म की सेवा तरक्की की बुनियाद होगी। किसी बेवा औरत का घर में आना या उसका साथ इस मास मे कोई शुभ फल  पैदा ना करेगा। छोटी-छोटी धार्मिक यात्राएं होंगी जो नेक फल पैदा करेंगी। व्यापार नेक फल का होगा। व्यापार की नयी योजनाएं बनेगी। 18 सितंबर मंगलवार बुध का कन्या राशि में प्रवेश व्यापार में नया उत्साह और आपकी सफलता का समाचार लेकर आएगा। जीवन मे नेक फल पैदा होगा। व्यापार में सफलता प्राप्त करने के लिए एक किलो मूंग की साबुत दाल बहते पानी में डालने से उत्तम फल पैदा होगा।

इस मास में धनु राशि वाले सामाजिक कार्य करते हुए समाज में अपना उचित स्थान प्राप्त करेंगे। पारिवार और समाज मे अग्रणी होकर कार्य संपन्न करोगे। समाज में आपके कार्य को सराहया जाएगा। इस मास बाहर मैदान मे कही पीपल का पेड़ लगाना नेक फल पैदा करेगा। यह कार्य परिवारिक  और भाग्य वृद्धि में सहायक रहेगा।

इस मास में खर्च कोई ज्यादा ना रहेगा और सारा खर्च नेक कार्यों पर होगा जो मन को प्रसन्नता देने वाला होगा।

मकर राशि


ग्रहों और नक्षत्रों की शुभ युति के कारण मकर राशि सितंबर मास में प्रभावशाली रहेगी। मंगल और केतु की लग्न में स्थिति आपको इस माह में समाज मे आकर्षक बनाए रखेगी। इस मास में कई ठोस निर्णय होंगे जो कुछ समय उपरांत आपको फलदाई रहेंगे। 21 सितंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय रहेगा। इस समय में यात्रा करना और नये वस्त्र खरीद करना निषेध रहेगा। यह मास आनंदमय अनुभव में बीतेगा।

बदलाव के दौर में  मन में अंतर्द्वंद चलना स्वभाविक है। लेकिन  पीछे मुड़कर देखें तो आप स्वयं अपने अनुभव से समझ सकते हैं कि प्रत्येक बदलाव के समय एक अंतर्द्वंद तो आया है। लेकिन बावजूद उस अंतर्द्वंद के जब निर्णय लेकर बदलाव को स्वीकार कर लिया तो जीवन में कितना कुछ सीखने को मिला है। मन का स्वभाव है पुराने परिचित के साथ जैसे-तैसे जिए चले जाना। मन की इस आदत के प्रति जागरुक होकर आने वाले बदलावों का खुले दिल से स्वागत करें और अपनी संपूर्ण ऊर्जा को नई दिशा में ले कर चल निकले। यह बदलाव इस माह जीवन को नई दिशा की ओर ले चलेगा।

मकर राशि सितंबर माह मे धन के लिए ज्यादा लाभकारी ना रहेगी। धन के आने की गति धीमी रहेगी। धन रुक-रुक कर आएगा। 6 सितंबर बृहस्पति वार शनि के मार्गी होते स्थिति में निश्चित तौर पर सुधार होगा। रुका हुआ धन आना शुरू हो जाएगा और लंबे समय तक धन आता रहेगा। आर्थिक स्थिति मजबूत रहेगी। धन के प्रति चिंता का अंत होगा। जीवनसाथी का स्वास्थ्य कुछ नरम रहेगा। 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद निश्चित तौर पर स्थिति में सुधार होगा और जीवनसाथी को नेक सेहत प्राप्त होगी।  मुट्ठी भर साबुत बादाम लक्कड़ के छिलके वाले किसी धार्मिक स्थान पर दान करना शुभ फलदाई होगा।

मकर राशि मे इस मास मित्रों की संख्या कम ही रहेगी। पुराने मित्रों से मेल होगा जो मन को प्रसन्नता देने वाला होगा। छोटे-छोटे उत्सव में आना जाना नेक और फलदाई रहेगा। घर को और वाहन को सुंदर बनाना और उसके लिए खर्चा करना इस माह में आम बात होगी। विलासिता से पूर्ण यह मास आप को प्रसन्न रखेगा। मौसम संबंधी कार्यालय संवाददाता और भौतिक शास्त्र में रुचि रहेगी। चित्रकारी के लिए उत्साह के साथ कार्य होगा जो आगे भविष्य में सफल रहेगा।

मकर राशि में सितंबर माह घर की स्थिति के लिए अत्यंत सुखद रहेगा। परिवार का इकट्ठा होना मन को शांति देने वाला होगा। परिवारिक सदस्य में आपसी मेलजोल बढ़ेगा। आप परिवार के अग्रणी बनकर समस्त परिवार के लिए कार्य करते रहोगे। घर पर पेंट पालिश और सफाई का कार्य शुभ फलदाई होगा। कई माह से रुकी हुई  पानी की व्यवस्था इस मास मे सुचारू ढंग से कार्य करती हुई आपके धन धन्य को बढ़ाने वाली होगी। घर पर छोटा उत्सव भी होगा जो परिवारिक सदस्यों को खुशी और शांति प्रदान करने वाला होगा।

विद्या के मामले में यह मास शुभ फल देगा। विद्या के प्रति चली आ रही कुछ माह से मुश्किलों को विराम लगेगा। 20 सितंबर बृहस्पतिवार एकादशी के बाद अनानास स्थिति में सुधार होगा।उच्च विद्या की प्राप्ति के लिए विदेश में यात्रा होगी और आपका चयन उच्च विधा के लिए सुगमता से होगा। संगीत आदि में रूचि बनेगी जो नेक फल देने वाली होगी। प्रेम संबंध इस माह में नेक फल के होंगे और मन को प्रसन्नता देने वाले होंगे।

मकर राशि में सितंबर माह व्यायाम और योगा के प्रति आरूची प्रकट करेगा और भी विलासिता और आलस्य के कारण शारीरिक परिश्रम से आप दूर ही रहोगे। शत्रु पक्ष इस माह में छुपी हुई कार्यवाहियां कर सकता है सावधान रहें। 18 सितंबर मंगलवार बुध का कन्या राशि में प्रवेश निश्चित तौर पर शत्रु पक्ष से राहत दिलाएगा और मन को प्रफुल्लित करता हुआ शरीरक विकास के लिए योग विद्या और व्यायाम में रुचि बनेगी।

जीवनसाथी का साथ मकर राशि में सितंबर मास में बना रहेगा। आपसी विचारों में भिन्नता होते हुए भी समय के अनुकूल लाभ होगा। जीवनसाथी का भाग्य साथ देगा और जीवन को नए आयामों की ओर लेकर चलेगा। 17 सितंबर सोमवार सूर्य का कन्या राशि में प्रवेश निश्चित तौर पर जीवनसाथी से संबंधों को मधुर करेगा। नौकरी में तबादले के संबंधित अनिश्चितता की स्थिति दूर होगी और  मन को प्रसन्नता प्राप्त होगी। नौकरी में लाभ रहेगा। स्थानांतर ना हो पाएगा।

मकर राशि  वालो को सितंबर मास मे दांतों की तकलीफ रहेगी। 13 सितंबर बृहस्पतिवार सिद्धिविनायक व्रत के बाद स्थिति में सुधार होगा और शुभ और नेक स्वास्थ्य प्राप्त होगा। सूर्य की स्थिति नेक होने के कारण आप की हाजिरी मे किसी भी परिवारिक सदस्य की सेहत का हास ना होगा। मंदे समय से बचाव के लिए 8 किलो कनक किसी भी धार्मिक स्थान पर दान करना सेहत और धन के लिए नेक फल का होगा।

इस मास में धार्मिक कृत्य मे आपकी सम्मिलिता कम ही रहेगी। आप की व्यस्तता आपको धार्मिक कार्यों से दूर रखेगी। 20 सितंबर बृहस्पतिवार एकादशी से शुभ समय शुरू होगा।आपकी तन मन धन से धार्मिक कार्यों में सम्मिलिता बनेगी और भाग्य को बलशाली बनाएगी। छोटी-छोटी यात्राएं होंगी जो सफल रहेंगी।

मकर राशि सितंबर माह व्यापार की दृष्टि में लाभकारी रहेगी। व्यापार की नई योजनाएं बनेंगी जो कार्यवृत्त होगी। कारोबार को नए उत्साह के साथ शुरू करना और उसमें अपनी रूचि बनाए रखना आपको सफलता दिलाएगा। बृहस्पति की स्थिति नेक होने के कारण देव कृपा से व्यापारिक परिस्थितियां अनुकूल रहेंगी। कुछ समय के लिए पीठ में दर्द रह सकता है जिसके लिए चने की दाल एक किलो धार्मिक स्थान पर दान करना शुभ फल देगा।

यह मास आपके और परिवार कल्याण के लिए शुभ रहेगा। समाज और परिवार से मान सम्मान मिलेगा। जो मन को प्रसन्नता देने वाला होगा।

कुंभ राशि


सितंबर माह में कुंभ राशि शुभ फल वाली होगी।  ग्रह और नक्षत्रों की स्थिति के कारण कुंभ राशि वालों का व्यक्तित्व आकर्षक बना रहेगा। आपके द्वारा लिए गए निर्णय इस माह में आपकी ताकत का और आपकी शालीनता का सबूत बने रहेंगे। निर्णय सफल रहेंगे जो सबको सर्वमान्य होगे।

21 सितंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय है। इस समय में नए जूते खरीदना करें और कर्जा ना लें तो शुभ फल रहेगा। 6 सितंबर बृहस्पतिवार शनि के मार्गी होते ही पिछले समय से चली आ रही सर्व कार्य रुकावटें समाप्त होगी और कार्य निर्विघ्न सफल होने शुरू हो जाएंगे। सरसों का तेल एक लीटर  6 सितंबर के बाद किसी धार्मिक स्थान पर दान करना शुभ असर करेगा।

सितंबर माह धनु राशि वालों के लिए धन की नई आमद लेकर आएगा। रुका हुआ धन मिलेगा।  लाटरी सट्टा आदि से धन की प्राप्ति के योग बने हुए हैं। अचानक धन प्राप्त होगा। जीवनसाथी का स्वास्थ्य स्वस्थ रहेगा और खुश रहेगा। शेयर बाजार इस मास में धन लाभ देगा। बीमा  पॉलिसी और सिक्योरिटी के कामो मे रूचि बनी रहेगी।

 

कुंभ राशि सितंबर मास में केतु की मंगल के साथ युति के कारण आपके किए रात के निर्णय सुबह बदल जाएंगे और आप  आश्चर्य से भर जायेंगे। कि आप रात को अपने निर्णय से कितने खुश थे और सुबह मन पूरा ही विपरीत दिशा में चला गया है।रात की हां और सुबह की ना के बीच आपका परेशान होना समझ में आता है।

आपके लिए शुभ समाचार यह है कि आप इस त्रिशंकु दशा से अब निकल पायेगे। परिस्थितियां सयम ऐसी होने वाली है कि निर्णय करना आसान हो जाएगा। यही समय है आप अपने मन की चलाकी को ठीक से देखें ताकि आने वाले समय में आप का मन हां और ना के बीच में खींचतान ना कर सके।

मित्रों की संख्या सितंबर माह में धनु राशि में बढ़ने वाली है। मित्र अनुकूल रहेगे। मित्रता लाभ देने वाली होगी पुराने मित्रों से अचानक मिलन होगा। सुखद की स्थिति का अनुभव होगा। वाहन का सुख बना रहेगा। वाहन को सुंदर बनाने और नया रंग रूप देने मे खर्च होगा।  मन को खुशी प्राप्त होगी।

सितंबर माह में कुंभ राशि में परिवारिक स्थिति सुखद बनी रहेगी। परिवार में छोटे-छोटे उत्सव होंगे । जो मन को शांति देने वाले हैं। सर्व परिवार के अग्रणी बनकर कार्य संपन्न करते हुए परिवार में शोभा और मान सम्मान पाओगे। घर को सुंदर बनाने के कार्यवाहियां होगी। दीवानखाना और रसोई खाना को सुंदर बनाने के लिए यतन होंगे। घर पर पूजा स्थान का बना होना इस माह के लिए लाभदायक रहेगा।

सितंबर मास कुंभ राशि वालों के लिए विद्या मान सम्मान देने वाली होगी। रुकी हुई विद्या पूर्ण होगी और ऊंची विद्या के लिए कहीं दूर परदेश में जाना होगा। विद्या से राजदरबार में मान सम्मान प्राप्त होगा। सरकारी नौकरी मिलने के योग बने हुए हैं। सूरज बुध की युति इस मास में कुंभ राशि वालों को प्रभावी बना रही है। नौकरी के संबंध में यह योग भाग्यशाली रहेगा और तरक्की के लिए योजनाएं बनेंगी। उच्च अधिकारियों से मान सम्मान मिलेगा। आपकी योग्यता को सहराया जाएगा।

सितंबर मास कुंभ राशि मे शत्रु पक्ष से भय रहेगा। राहु की स्थिति के कारण शत्रु कभी शत्रुता वाला और कभी मित्रता वाला भाव प्रकट कर आप को डराने के प्रयास करेगे।  पांव में चोट लगने का भय है सावधान रहें। 17 सितंबर सोमवार सूर्य का कन्या राशि में प्रवेश सारी अनिश्चितताओं को विराम लगा देगा। शत्रु पक्ष पर विजय प्राप्त होगी। कोर्ट कचहरी के मामले हक में होंगे। बुरे वक्त से बचाव के लिए  दो सूखे नारियल पूजा वाले बहते पानी में डालना नेक फल पैदा करेंगे।

सितंबर मास मे कुंभ राशि वालों के लिए जीवनसाथी का साथ नेक फल का होगा। जीवनसाथी कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करेगा। जीवनसाथी का हौसला आपको नया उत्साह देता जाएगा। आपकी आमदनी के कई जरिए बढ़ेंगे। आमदन कई जगह से आनी शुरू हो जाएगी। नगर पालिका ग्राम पंचायत सिनेमा थिएटर फिल्म निर्माण का वितरण आदि में रूचि बनी रहेगी। 13 सितंबर बृहस्पतिवार सिद्धिविनायक व्रत  के बाद स्थिति में और सुधार होगा। रुके हुए सब कार्य पूर्ण होंगे।

सितंबर मास मे कुंभ राशि वालों के लिए स्वास्थ्य नेक फल का रहेगा। छाती और पेट में कुछ तकलीफ रहेगी। 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद स्थिति शुभ हो जाएगी और स्वास्थ्य लाभ होगा। अच्छे स्वास्थ्य की प्राप्ति के लिए मूगी सावत दाल बहते पानी में डालने से नेक फल पैदा होगा। त्रिलोकी का स्वामी होगा।

कुंभ राशि में सितंबर मास धार्मिक कृत्य मे शुभ फल देने वाला होगा। धार्मिक अनुष्ठान होंगे। धार्मिक कार्य में सम्मिलित बड चढ़कर बनी रहेगी। तन मन धन से धर्म के प्रति समर्पित रहोगे। आप के लिये धर्म  आगे बढ़ने का और भाग्य को बढ़ाने का एक सुगम रास्ता होगा। किसी भी धार्मिक स्थान पर जाकर मूर्ति को प्रणाम करना और वरदान मांगना सफलता देगा। घर पर किसी धार्मिक पुस्तक का आना नेक असर का रहेगा। अच्छे समय के लिए घर पर मीठा बनाकर किसी धार्मिक स्थान पर दान करना शुभ असर करेगा।

कुंभ राशि सितंबर माह में व्यापारिक संबंध में नेक फल करेगी। व्यापार के लिए नई योजनाएं बनेंगी। जो आगे समय में चलकर कार्यबंद होगी। व्यापार के लिए स्थान परिवर्तन कोई शुभ असर का ना  होगा। 18 सितंबर मंगलवार बुध का कन्या राशि में प्रवेश सारी अनिश्चितताओं को विराम लगा देगा। व्यापार में उच्च कोटि का लाभ होगा और व्यापार सही तरीके से चल निकलेगा। व्यापार को बढ़ाने के लिए किसी धार्मिक स्थान पर एक किलो गुड़ का दान लाभ देगा।

इस मास में खर्च अधिक रहेगा जिसके लिए मन खिन्न रहेगा।दोस्तों आपका धर्म एस्ट्रो जल्द ही नए और कुछ वीडियो ले कर आपके पास हाजिर होगा।धन्यवाद।

मीन राशि


नमस्कार दोस्तों धर्म एस्ट्रो  चैनल में आपका स्वागत है। इस मास को अपने लिए भाग्यशाली बनाने के लिए राशि के फलादेश कृपया पूरा सुने और देवकृपा में भागीदार बने।

ग्रह और नक्षत्रों की शुभ युति के कारण मीन राशि सितंबर माह में शुभ फलदाई रहेगी। राशी मे बृहस्पति की नेक स्थिति के कारण निर्णय करने आसान रहेंगे और  परंतु कुछ आप के निर्णय सर्वमान्य ना होंगे। 21 सितंबर शुक्रवार से 26 सितंबर बुधवार तक पंचकों का समय रहेगा। इस समय में नया व्यापार शुरू ना करें और धन के संबंधित लेनदेन ना करें तो शुभ फल पैदा होगा। किसी धार्मिक स्थान पर जाना और वहा क्षमा मांगना इस माह शुभ फल देगा। मान सम्मान मिलेगा और आपके निर्णय का सम्मान होगा।

आप धन तो खूब कमाते हैं लेकिन हाथ में टिकता नहीं विशेष रूप से ऐसी तथाकथित बातों से मन में क्षेम रहेगा। यदि आप गौर करके सत्या को देखो तो आप पाएंगे इस तरह की बातें केवल बातें ही हैं हकीकत नहीं। समय है जब आप इन बातों से ऊपर उठकर जीवन के तथ्य को देखें और समझे। समय है अपनी भावनाओं के प्रति आपनी जरूरतों के प्रति अतिरिक्त जागरूक हो और इसकी शुरुआत आप की  स्वयं से कर सकते है।

मीन राशि सितंबर माह में धन के लिए शुभ और लाभकारी रहेगी। धन निर्विघ्न आता जाएगा। रुका हुआ और दबा हुआ धन प्राप्त होगा। धन के प्रति असीम इच्छा पूर्ण होगी। जीवनसाथी का स्वास्थ्य नरम रहेगा। गर्दन और पीठ में तकलीफ रहेगी। 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद स्थिति में निश्चित तौर पर सुधार होगा। जीवनसाथी को स्वास्थ्य लाभ होना शुरू होगा ढाई किलो सफेद चरी दूध देने वाले जानवरों को डालना शुभ असर पैदा करेगा।

मीन राशि मे सितंबर माह मित्रों की संख्या कम ही रहेगी। परंतु मित्र प्रभावशाली रहेंगे और मित्रों से कई बार मिलन होगा और आपको लाभकारी रहेगा। मित्र भी आपसे इस माह में पूर्ण लाभ पाएंगे। वाहन आदि के खराब होने के योग बने हुए  हैं। स्टैंप कानून साबुत कानून और रजिस्ट्रेशन कानून वेधशाला और मौसम संबंधी कार्यालयों के कर्मचारी से लाभ होगा और मित्रता बनी रहेगी। इसमें रुचि भी रहेगी।

मीन राशि मे सितंबर मास पारिवारिक स्थिति संघर्ष में रहेगी। किसी परिवारिक सदस्य से ना चाहते हुए भी संबंधों में तनाव रहेगा। जिसके कारण मानसिक स्थिति तनावपूर्ण रहेगी। 18 सितंबर मंगलवार वुध का कन्या राशि में प्रवेश निश्चित तौर पर स्थिति में सुधार करेगा। परिवारिक सदस्यों से दोबारा से संबंध नेक होने शुरू हो जाएंगे।

मंदे  समय में उपाय के लिए एक किलो मूगी साबत दाल बहते पानी में डालना पारिवारिक स्थिति को नेक करेगा। इस मास में नया घर और नई कार की योजनाएं केवल योजना ही रह जाएंगी। घर पर उत्तर दिशा की तरफ पुरानी मशीनों का रखना और पुरानी लोहे के भारी सामान का रखना परिवार की स्थिति को अस्थिर करेगा। बेहतर होगा कि उत्तर की तरफ से भारी सामान ना रखा जाए शुभ फल होगा।

सितंबर मास मीन राशि विद्या के संबंध में काफी समय से चली आ रही रुकावटें चलती रहेगी। 9 सितंबर रविवार अमावस्या के बाद निश्चित तौर पर चंद्रमा की स्थिति में सुधार होगा और विद्या में चली आ रही कुछ सप्ताह की तनातनी समाप्त होगी। विद्या के लिए सिलेबस निर्धारित होगा और उच्च  विद्या प्राप्ति के लिए आपका चयन सफलतापूर्वक होकर रहेगा। प्रेम संबंध मे इस माह कुछ मनमुटाव रहेगा। ढाई किलो जौ किसी धार्मिक स्थान पर दान करना विद्या और प्रेम संबंधों में सफलता को यकीनी बनाएगा।

मीन राशि मे सितंबर माह शत्रुपक्ष दबा और डरा रहेगा। कोर्ट कचहरी में मामले हक में होंगे। शत्रु पक्ष डरकर समर्पण की नीति से आपके शरणागत रहेगा। यह मास योगा के लिए और शारीरिक व्यायाम के लिए उपयुक्त रहेगा और उसमें अपने स्वास्थ्य को  सुधारने में रूचि बनी रहेगी। आप के पांव पर चोट लगने का भय है सावधान रहे। मंदे समय से बचाव के लिए 8 किलो कनक किसी धार्मिक स्थान पर दान करना नेक फल पैदा करेगा।

मीन राशि मे सितंबर माह नौकरी के संबंध में कुछ उलझनें पैदा होंगी। नौकरी में मन की स्थिति कोई सुखद ना होगी। जीवनसाथी का साथ इस माह में कोई ज्यादा नेक फल का  ना होगा। 20 सितंबर बृहस्पतिवार एकादशी के बाद स्थिति में सुधार होगा। उच्च अधिकारियों की तरफ से मान सम्मान प्राप्त होगा। नौकरी के संबंध में स्थिति मे सुधार के लिए एक किलो काले तिल किसी धार्मिक स्थान पर दान करना नौकरी के संबंध में रुकावटों को दूर करेगा और शुभ फल होगा।

मीन राशि सितंबर माह में सेहत का फल नेक होगा। पेशाब की बीमारियां और छाती के कष्ट रहेंगे। 13 सितंबर बृहस्पतिवार सिद्धिविनायक व्रत के बाद स्थिति में निश्चित तौर पर सुधार होगा। स्वास्थ्य लाभ प्राप्त होगा और मन प्रसन्न रहेगा। मंदे समय से बचने के लिए दूधवाली गाय को चारा डालना और गो-ग्रास का हिस्सा डालना नेक फल पैदा करेगा तथा स्वास्थ्य लाभ रहेगा।

सितंबर मास मीन राशि में धार्मिक कार्यों में रुचि बनी रहेगी। धार्मिक कार्यों में धन द्वारा सहायता देकर मान सम्मान प्राप्त करोगे। समाज में इस कृत्य द्वारा आपका मान सम्मान और उचित स्थान प्राप्त होगा। मीन राशि में शनि की स्थिति के कारण व्यापारिक दृष्टि से यह माह सितंबर मास व्यापार में कई रुकावटें आएंगी। जिससे मन खिन्न रहेगा। 6 सितंबर बृहस्पतिवार शनि के मार्गी होते ही स्थिति में निश्चित तौर पर सुधार होना शुरू हो जाएगा। व्यापार के तलक में नई योजनाएं बनेंगी और व्यापार फलने-फूलने लगेगा।

इस माह में सर्व कार्य सिद्धि के लिए किसी अंधे व्यक्तियों को पीले रंग के लड्डू दान करना सब मुश्किलों से और सब कष्टों से बचाऐ रखने के लिये सहायक होगा।और आपको प्रसन्न रखेगा।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Skip to toolbar